Type Here to Get Search Results !

Bihar Vidhansabha mein school ki timing aur shiksha vibhag ke apar mukhya sachiv keke pathak ko lekar vipaksh ka hangama

  

Bihar Vidhansabha Mein 9:05 बजे तक शिक्षक नहीं पहुंचे नहीं तो वेतन में कटौती होगी। 

हैलो दोस्तो अभी बिहार में शिक्षा को लेकर काफी बारी तनातनी चल रही है हाल ही में Bihar Vidhansabha Mein के दोनों सदनों में केके पाठक के मसले पर भरी हंगामा चल रही है और आहिए ये भी जानते है सीएम ने शक्षकों से जूरी कुछ ऐसे फैसले किए है। बस आप लोगों से निवेदन है इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ने। 
Bihar Vidhansabha mein school ki timing aur shiksha vibhag ke apar mukhya sachiv keke pathak ko lekar vipaksh ka hangama
दोस्तो बता दे कि विधानसभा में शिक्षकों के स्कूल आने के बारे में मुख्यमंत्री नितीश कुमार कि घोषणा जमीन पर लागू नहीं हैं। शिक्षक सुबह 9 बजे स्कूल नहीं पहुंच रहे तो उनका वेतन कट रहा, जबकि सदन में सीएम ने कहा था कि 10 बजे पढ़ाई शुरू होने से 15 मिनट पहले शिक्षकों को स्कूल पहुंचना है। इसी मुद्दे पर बिहार विधानमंडल के दोनों सदनों में गुरुवार को विपक्ष ने जमकर हंगामा किया।
  •  Bihar Vidhansabha Mein में विपक्ष का नारेबाजी
विधानसभा में प्रश्नकाल के दौरान विपक्ष ने दो फेज में 14 मिनट तक वेल में नारेबाजी की। फिर 30 मिनट तक सदन का बायकॉट किया। विपक्ष केके पाठक पर कारवाई की मांग कर रहा था। कुछ ऐसा ही परिदृश्य विधान परिषद में भी प्रश्नकाल के दौरान दिखा। यहां सदस्य वेल में तो नहीं आए लेकिन 30 मिनट तक अपनी ही सीट पर खड़े होकर विरोध करते रहे। इसमें सत्ता-विपक्ष दोनों के सदस्य शामिल थे। विपक्ष कहता रहा कि पाठक ने एक मीटिंग में विधायकों और शिक्षकों को गली दी है। उन पर कारवाई कि जाए।
  •  Bihar Vidhansabha Mein नारेबाजी पे डॉ. सजीव कुमार सिंह और सीपीआई के प्रो. संजय कुमार सिंह ने क्या कहा ?
विधान परिषद में जदयु के डॉ. सजीव कुमार सिंह और सीपीआई के प्रो. संजय कुमार सिंह ने कहा कि सीएम के निर्देश के बाद भी स्कूल खुलने के समय में कोई परिवर्तन नहीं हुआ। राजद के सुनील सिंह कहने लगे कि ऐसे पदाधिकारी (केके पाठक) को बिहार का मुख्य सचिव या मुख्यमंत्री सचिवालय का पदाधिकारी बना देना चाहिए जिससे उनका सभी विभागों पर ध्यान रहेगा। भाजपा के संजय मयूख ने भी पाठक का मुद्दा उठाया।
  • समझिए... क्यों और कैसे पैदा हुई ऐसी परिस्थिति
स्कूल में बच्चों कि पढ़ाई के समय का संशोधित आदेश तो जारी हो गया। लेकिन स्कूलों में शिक्षकों कि उपस्थिती के समय के समय संबंधित आदेश जारी नहीं हुआ। शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक का 28 नवंबर 2023 का आदेश ही आज भी प्रभावी है।
  •  Bihar Vidhansabha Mein सही कौन है, और कौन गलत है
सदन में सीएम-
  1. 20 फरवरी : 9 बजे सुबह से शाम 5 बजे तक स्कूल खोलने का शिक्षा विभाग का निर्देश वापस होगा। टाइमिंग 10 से 4 बजे तक रहेगी।
  2. क्या हुआ : शिक्षा विभाग ने 9:30 से 3:30 बजे के स्थान पर स्कूलों कि टाइमिंग 10:00 से 4:00 बजे कर दी। आदेश जारी कर दिया। लेकिन इसमें शिक्षकों के आने-जाने के समय का जिक्र नहीं। 
  3.  21 फरवरी: कक्षाएं 10 बजे से ही होंगी। शिक्षक 15 मिनट पहले सुबह 9:45 बजे तक स्कूल आएंगे और शाम 4:15 के बाद चले जाएंगे। 
  4. क्या हुआ : सीएम के कहे अनुसार शिक्षा विभाग ने शिक्षकों के आने के समय में परिवर्तन संबंधी नया आदेश जारी नहीं किया। 9 से 5 वाला ही प्रभावी हैं। 
  • जिलों में अफसर
  1. 21 फरवरी: भोजपुर के डीईओ ने निरीक्षि पदाधिकारियों को आदेश दिया कि सुबह 8:30 बजे से 9 बजे के बीच स्कूल का निरीक्षण करना है। फोटो अपलोड करनी है। ऐसा नहीं करने पर निरीक्षि पदाधिकारी का वेतन कटेगा। 
  2. 22 फरवरी: निरीक्षि पदाधिकारियों ने भोजपुर जिले के बालक उच्च माध्यमिक विधालय- धंडिहां में सुबह 9:05 बजे हुए निरीक्षण के दौरान अनुपस्थित 4 शिक्षकों कि रिपोर्ट भेजी। डीईओ ने वेतन कटौती कि अनुशंसा कर दी। 
  3. 22 फरवरी: कैमूर में सुबह 8:30 से 9 बजे तक स्कूल जांच कि फोटो नहीं देने वाले 59 निरीक्षि पदाधिकारियों से शोकॉज़ किया गया। 
  • शिक्षा मंत्री बोले- शिक्षकों को 15 मिनट पहले स्कूल आना है 
Bihar Vidhansabha mein school ki timing aur shiksha vibhag ke apar mukhya sachiv keke pathak ko lekar vipaksh ka hangama
शिक्षा मंत्री- विजय कुमार चौधरी ने कहा कि शिक्षकों को 15 मिनट पहले स्कूल पहुंचना है और क्लास 10 से 4 बजे तक ही चलाना है। जिला स्तर पर अलग किसी पदाधिकारी के द्वारा इससे इतर नोटिफ़िकेशन जारी हुआ है तो सरकार उसे देखेगी। मुख्यमंत्री की जो घोषणा है सरकार इसे हर हालत में अनुपालन करवाएगी। जिस वीडियो या टेप में केके पाठक की तरफ से अपशब्द कहने की बात की जा रही है वो मामला बुधवार को Bihar Vidhansabha Mein भी उठा था। वहां सभापति जांच कर रहे है। 
  • सरकारी स्कूलों को 9 से 5 चलाने पर केके पाठक अड़े 
Bihar Vidhansabha mein school ki timing aur shiksha vibhag ke apar mukhya sachiv keke pathak ko lekar vipaksh ka hangama
शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक सरकारी स्कूलों को 9 बजे से 5 बजे शाम तक चलाने पर अड़ गए हैं। सीएम की घोषणा का भी पाठक पर कोई असर नहीं हुआ है। उन्होंने अपना पहले का आदेश वापस नहीं लिया है। बुधवार को ही जिला शिकसा कार्यालयों के साथ वीडियो कोन्फ़्रेसिंग में पाठक ने कहा कि कक्षाएं भले ही 10 से 4 बजे तक चलेगी, लेकिन शिक्षकों को 9 बजे आ जाना होगा। शाम में 4 बजे के बाद भी एक घंटे तक मिशन दक्ष और विशेष कक्षाएं संचालिए होंगी।
  •  Conclusion :
 तो दोस्तो इस लेख में आपको पता चल गया होगा कि किस बात पे आखिर तनातनी चल रही है Bihar Vidhansabha Mein और क्या कारण था तो दोस्तो मैं उम्मीद करता हु आपको इस लेख से आपको कुछ जा
नकारी प्राप्त हुआ है अगर किसी प्रकार का आपको कोई समस्या है तो आप कमेंट मे जरूर पूछ सकते है। 

ताजा खबरे पढ़ने के लिए Motivatedraho के इस पगे को follow करें और latest खबरे जानते रहे। 
Owner- Raju Kumar
Tags

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.