Type Here to Get Search Results !

Bihar Ke CM Nitish Kumar Ka Janmdin

  

Nitish Kumar जी जन्मदिन के शुभ अवसर पर 

हैलो दोस्तो आप सभी को बिहार के सीएम Nitish Kumar जी बारे में पता ही होगा। लेकिन आप लोगो में से सायद ही किसी को ये नहीं पता होगा की आज हमारे बिहार के सीएम Nitish Kumar जी आज जन्मदिन है उनको आप और हम लोगो की तरफ से जन्मदिन की शुभकामनाए और आहिए जानते है नितीश कुमार जी के जन्मदिन पर नेताओं का क्या कहना है।
 
Bihar Ke CM Nitish Kumar Ka Janmdin
Bihar Ke CM Nitish Kumar Ka Janmdin 
Nitish Kumar जी के जन्मदिन पर स्पीकर महोदय जी का शायराना अंदाज; देखने को मिला। तो आहिए जानते है बीजेपी के नेता और अन्य नेता सीएम ने जन्मदिन पर किस प्रकार शुभकामनाए दिये।

बिहार विधानसभा के बजट सत्र का आज आखिरी दिन है। मुख्यमंत्री Nitish Kumar के 73वें जन्मदिन पर पूर्व डिप्टी सीएम, डिप्टी सीएम विजय सिन्हा समेत बाकी विधायकों ने बधाई दी। सदन में स्पीकर का शायराना अंदाज देखने को मिला। उनहोंने Nitish Kumar को बधाई देते हुए कहा कि "ये तो एक रस्म है जो अदा होती है... वरना सूरज की कहां सालगिरह होती है।" इस पर भाई बीरेंद्र ने सदन में कहा कि मुख्यमंत्री जी को बधाई, लेकिन गलत संगत में ना रहे मुख्यमंत्री जी।
  • विधानसभा में 106 मुद्दे को उठाया गया।
शुक्रवार को प्रश्र काल के अलावा केवल गैर सरकारी संकल्प लिए गए। प्रश्रकाल में जहां स्वस्थ्य, योजना, विकास, ऊर्जा और संसदीय कार्य विभाग से सवाल पूछे गया। ये 17वीं विधानसभा में पहला सेशन जिसका प्रश्र काल बिना बाधित हुए चला। एक बार भी प्रश्रकाल स्थगित नहीं हुआ। इस बार का बजट सत्र सबसे छोटा रहा। अभी तक औसतन एक महीने तक चलने वाला बजट सत्र इस बार मात्र 12 दिन का ही रहा। उसमें भी एक दिन सदन के स्पीकर के निर्वाचन के लिए निर्धारित किया गया था। इस हिसाब से देखें तो बजट संबंधी कार्य 11 दिन ही हुए।
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के बिहार आने पर राबड़ी देवी ने क्यों सवाल उठाया?
विधान परिषद पोर्टिको में पूर्व मुख्यमंत्री रबड़ी देवी के नेतृत्व में अपराध भ्रष्टाचार और नए कानून के खिलाफ राजद ने प्रदर्शन किया। रबड़ी देवी ने बीजेपी पर विधायकों कि खरीद-फरोख्त का आरोप लगाया। प्रदर्शन के दौरान रबड़ी देवी ने भी सीएम Nitish Kumar जी जन्मदिन की बधाई भी दी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के बिहार आने के सवाल पर रबड़ी देवी ने कहा कि हम मांग करते हैं कि बिहार जैसे राज्य को विशेष राज्य का दर्जा वो दें, लेकिन जब तक उनकी सरकार रहेगी, बिहार को विशेष राज्य का दर्जा नहीं मिलेगी। बीजेपी के 400 सीट लाने के दावे पर उनहोंने कहा कि वे लोग फेका-फेकाउल बात करते हैं। पूर्व मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि 3 मार्च को रैली नहीं रैला का आयोजन हो रहा है। उसमें सारे लोग आ रहे हैं।
  • राजद MLC ने सीएम Nitish Kumar की तुलना भगवान शंकर जी से किए
बिहार विधान परिषद में एमएलसी सुनील कुमार सिंह ने सीएम Nitish Kumar जी को जन्मदिन की बधाई देते हुए कहा कि आज आपका जन्मदिन है हम कोटि-कोटि बधाई देते हैं, आप हमेशा स्वस्थ रहें, कामना करते हैं आपकी 100 वर्षों की आयु हो। इसके बाद उनहोंने कहा कि छल प्रपंचों से आप बच कर रहें। आपकी छवि बेदाग रहे। सत्ता के भूखे लोगों से बचकर रहें। सुनील सिंह ने कहा कि ये लोग गांधी के नहीं हुए तो Nitish Kumar के क्या होंगे। इस दौरान उनहोंने Nitish Kumar की तुलना भगवान शंकर जी से की। सुनील सिंह आगे कहा कि मुझे जैसे सुदामा के लिए पटना में रहने के लिए फ्लैट नहीं है फ्लैट की व्यवस्था करवा दें। इस पर तंज़ कसते हुए शिक्षा मंत्री विजय चौधरी ने कहा कि भगवान करे बिहार के सारी गरीब सुनील कुमार सिंह कि तरह हो जाए।

  • सदन को नया अध्यक्ष-उपाध्यक्ष मिला 

बजट सत्र के दौरान कई हैपनिंग बिहार विधानसभा के इतिहास में पहली बार हुई। सबसे खास रहा स्पीकर का चुनाव। विधानसभा के इतिहास में पहली बार किसी स्पीकर को अविश्रास प्रस्ताव लाकर हटाया गया। महागठबंधन की सरकार बदलने के बाद अवध बिहारी चौधरी के खिलाफ अविश्रास प्रस्ताव लाया गया था। इसके बाद भी उनहोंने इस्तीफा नहीं दिया। इसके बाद सदन में विश्रास मत पेश हुआ, जिसमें वो हार गए। नंद किशोर यादव के रूप में सदन को नया स्पीकर मिला। इन्हें सर्वसम्मति से चुना गया। इसके दो दिन बाद चलती सदन में डिप्टी स्पीकर ने भी इस्तीफा दे दिया। इनकी जगह सर्वसम्मति से नरेंद्र यादव को डिप्टी स्पीकर चुना गया।  

  • बीच सदन में विधायकों ने बदला पाला 

बिहार विधानसभा के इतिहास में यह पहली बार देखने को मिला जब बीच सदन में 6 विधायकों ने पाला बदल लिया। सबसे पहले 12 फरवरी को फ्लोर टेस्ट से पहले राजद के तीन विधायक प्रहाद यादव, नीलम देवी, और चेतन आनंद अपने दल राजद का साथ छोड़ सत्ता पक्ष में आकर बैठ गए। हालांकि वो किस पार्टी के साथ हैं अभी तक उनहोंने इसका खुलासा नहीं किया है। इसके बाद 27 फरवरी राजद की संगीता देवी और कांग्रेस से सिद्धार्थ सौरभ और मुरारी गौतम बीच सदन में BJP का दमन थाम लिया। 

  • नेता प्रतिपक्ष बजट सत्र से रहे दूर 

बजट सत्र में जिस दिन स्पीकर का चुनाव हुआ उसी दिन राजद नेता तेजस्वी यादव को नेता प्रतिपक्ष बनाया गया। वहीं जिस दिन से उन्हें नेता प्रतिपक्ष बनाया गया उस दिन से एक बार भी वो सदन नहीं आए। न ही तेजस्वी बजट पेश होने वाले दिन सदन में रहे और न ही इसके एक भी चर्चा भी शामिल हुए। इस सवाल पर उनहोंने कहा था कि जिस बजट को उनकी सरकार में तैयार किया गया, उसके विरोध में वो कैसे रहते। उनहोंने कहा कि जब वो डिप्टी सीएम थे तब पूरा बजट तैयार किया गया था। बस उसे पेश करने वाले बादल गए। 

  • Conclusion:
तो दोस्तो इस लेख में मैंने आपको Nitish Kumar जी जन्मदिन के बारे में बताया जो अभी हाइलाइट थी बाकी दोस्तो इस लेख को जरूर पढ़ने क्यूकी इस लेख कुछ महत्पुर्ण बाते बताई गई है।उम्मीद करता हु आपको ये लेख पढ़ने में पसंद आया होगा। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.